Thursday, July 25आदिवासी आवाज़

वेदांता ई एस एल स्टील टीम ने क्यू सी एफ आई के बोकारो चौप्टर द्वारा कार्यस्थल प्रबंधन के 5 एस सिस्टम पर आयोजित छठे कॉन्क्लेव में स्वर्ण अवार्ड जीता

NAGADA : The Adiwasi Media

ई एस एल टीम में अलेया अर्शी, आयशा गुप्ता, तान्या कुमारी और नीरव ने जीता गोल्ड अवार्ड.
• यह आयोजन बोकारो क्लब लिमिटेड में हुआ और इसमें विभिन्न इकाइयों की 18 टीमों ने भाग लिया.
• कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पीके रथ (ईडी, सेल रिफ्रैक्टरी), महेश त्रिपाठी (निदेशक, चिन्मय स्कूल), मनोज कुमार दुबे (सचिव क्यूसीएफआई), और सुश्री मीनाक्षी सभरवाल (मुख्य गुणवत्ता अधिकारी, ईएसएल स्टील लिमिटेड) उपस्थित रहे.

बेकारो| 29 मई 2024: वेदांता समूह की कंपनी ई एस एल स्टील लिमिटेड भारत में एक अग्रणी ग्रीनफील्ड इंटीग्रेटेड स्टील उत्पादक है। कंपनी पर्यावरण, स्वास्थ्य और सुरक्षा के प्रति समर्पित और प्रतिबद्व है। कंपनी में सभी अंतरराष्ट्रीय स्तर की आधारभुत संरचनाएं तो पहले से थे ही लेकिन अब इस सूची मे 5 एस सिस्टम कार्यस्थल प्रबंधन भी जुड़ गया है।

हाल ही में बोकारो क्लब में, वेदांता ई एस एल स्टील टीम ने कार्यस्थल प्रबंधन की 5 एस प्रणाली के कार्यान्वयन की अपनी प्रक्रिया और परिणाम को लिए स्वर्ण पदक जीता। जिसके लिए सभी उपस्थित अधिकारियों ने कंपनी को बधाई दी। ई एस एल कंपनी ने क्यू सी एफ आई (क्वालिटी सर्कल फोरम ऑफ इंडिया) के बोकारो चैप्टर द्वारा कार्यस्थल प्रबंधन के 5 एस सिस्टम पर आयोजित छठे कॉन्क्लेव में स्वर्ण पदक प्राप्त किया। इस टीम में अलेया अर्शी (बिजनेस एक्सीलेंस विभाग), आयशा गुप्ता (बिजनेस एक्सीलेंस विभाग), तान्या कुमारी (लाइम और डोलो विभाग), और नीरव (प्रशासन विभाग) सहित चार लोग शामिल थे।

5 एस सिस्टम एक अंतरराष्ट्रीय स्तर कार्यप्रणाली है जो सर्वात्तम कार्यस्थल प्रबंधन और खतरों को खत्म करने में मदद करता है। इससे और अच्छे कार्यस्थल संगठन और प्रबंधन की ठोस नींव रखी जाती है। यह एक प्रबंधन विशेषज्ञ – ताकाशी ओसाडा द्वारा प्रस्तुत एक जापानी अवधारणा है और इसमें बेहतर कार्यस्थल के लिए पांच चरण शामिल हैं। पहला चरण है सेइरी (पुनर्व्यवस्थित करना), दूसरा चरण है सीटन (साफ-सुथरापन), तीसरा चरण है सीसो (सफाई), चौथा चरण है सीकेत्सु (मानकीकरण), और पांचवां चरण है शित्सुके (अनुशासन)।

इस अवसर पर ई एस एल स्टील लिमिटेड की मुख्य गुणवत्ता अधिकारी और अब बिजनेस एक्सीलेंस विभाग की प्रमुख मीनाक्षी सभरवाल ने कहा, “ई एस एल स्टील लिमिटेड में हम कार्यस्थल प्रबंधन की 5 एस प्रणाली को लागू करने की प्रक्रिया में हैं और इसका पहला चरण पूरा कर चुके हैं तथा नवंबर 2024 तक इसका अंतिम प्रमाणन प्राप्त करने का इरादा रखते हैं। कार्यस्थल प्रबंधन की 5 एस प्रणाली को समय की खपत को कम करने, सुरक्षा बढ़ाने, त्रुटि को न्यूनतम करने, अपव्यय को कम करने और टीम वर्क को मजबूत करने के लिए दुनिया भर में स्वीकार किया गया है। 5 एस प्रणाली के पूर्ण कार्यान्वयन और उसके बाद के प्रमाणन के अंत तक, इस अभिनव प्रक्रिया में हमारे सभी कर्मचारी शामिल होंगे। जिसमें शीर्ष प्रबंधन, जमीनी स्तर के कर्मचारी, हमारे ठेकेदार, डीलर, वितरक, आपूर्तिकर्ता और यहां तक कि हमारे ट्रांसपोर्टर भी शामिल होंगे।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पी के रथ (ई डी, सेल रिफ्रैक्टरी) व महेश त्रिपाठी (निदेशक, चिन्मय स्कूल) उपस्थित रहे। हाल के दिनों में ही कंपनी की सुरक्षा और डिजिटल टीम ने पांचवें सीआईआई सर्किल प्रतियोगिता में भी स्वर्ण पदक हासिल की जिसमें देश भर के कंपनियों से सात श्रेणियों में 59 प्रविष्टियां प्राप्त हुई थीं।

व्यावसायिक उत्कृष्टता टीम के बारे में
ई एस एल स्टील लिमिटेड की व्यावसायिक उत्कृष्टता टीम का नेतृत्व सुश्री मीनाक्षी सभरवाल कर रही हैं और विनय भूषण कुमार उनकी सहायता कर रहे हैं। इन दोनो को ं ईएसएल स्टील में प्रगति, नवाचार और उद्योग की सर्वाेत्तम प्रथाओं को प्रदर्शित करने के लिए, विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए अधिकृत किया गया।

वेदांता ई एस एल स्टील लिमिटेड के बारे में
झारखंड के बोकारो जिले के सियालजोरी गांव में स्थित ईएसएल स्टील लिमिटेड स्टील उत्पादों का एक अग्रणी निर्माता है। इसके पास 2.5 मिलियन टन प्रति वर्ष (एमटीपीए) का ग्रीनफील्ड एकीकृत स्टील प्लांट है जो पिग आयरन, बिलेट्स, टीएमटी बार, वायर रॉड और डक्टाइल आयरन पाइप का उत्पादन करता है। यह प्लांट निर्धारित पर्यावरण मानकों के अनुरूप काम करता है, जो विश्व स्तरीय सेवाओं और उत्पादों की पेशकश करने के लिए प्रतिष्ठित निर्माताओं से अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञता और समाधान लाता है