Thursday, July 25आदिवासी आवाज़

बोकारो में अतिक्रमण के खिलाफ चला अभियान, सिटी पार्क के डैफोडिल्स फूड्स का बड़ा हिस्सा भी तोड़ा

NAGADA : The Adiwasi Media

बोकारो स्टील प्लांट (बीएसएल) के नगर सेवा विभाग की टीम इन दिनों अतिक्रमण और अवैध बिजली कनेक्शन हटाने को लेकर लगातार अभियान चला रही है। इसका जगह-जगह विरोध भी हो रहा है। मंगलवार को सेक्टर-4 एफ में खटाल और झोपड़ियों में लगाए गए अवैध कनेक्शन हटाने गई टीम का लोगों ने विरोध किया। इस दौरान कुछ युवकों ने खटाल की ओर से पथराव भी किया। विरोध बढ़ता देख बीएसएल की टीम वापस लौट गई। इससे पहले 300 मीटर से ज्यादा बिजली के तार जब्त कर दर्जनों कनेक्शन काट दिए थे। इस संबंध में नगर सेवा विभाग के महाप्रबंधक एके सिंह ने कहा कि कुछ लोगों ने विरोध किया था, ऐसा मामला नहीं था कि प्राथमिकी दर्ज करवाई जाए। ऐसा विरोध होता रहता है। हम लोग कार्रवाई जारी रखेंगे। किसी भी हाल में अवैध तरीके से बिजली जलाने नहीं देंगे। 
इधर, मंगलवार को ही सिटी पार्क के अंदर बीएसएल के सुरक्षाकर्मियों ने डैफोडिल्स फूड्स (लेक रेस्टोरेंट) के एक बड़े हिस्से को तोड़ दिया। इससे पहले बीएसएल प्रबंधन ने अवैध निर्माण हटाने की चेतावनी भी दी थी, लेकिन संचालक द्वारा नहीं हटाने पर तोड़ दिया गया। उधर, होटल संचालक नरेश कुमार ने उक्त कार्रवाई को गलत बताया है। 
इस मामले में होटल संचालक ने कहा कि मुझे बीएसएल ने ही लीज पर दिया है। एग्रीमेंट में लिखा है कि होटल के अंदर मरम्मत का काम करवा सकते हैं। मैंने बाहर में कोई काम नहीं करवाया, लेकिन पिछले दिनों एक कर्नल आए थे और धमकी देकर गए थे कि तुम गलत काम कर रहे हो, इसे हटाओ। इसके बाद कोई नोटिस भी नहीं दिया और आकर तोड़ दिया। होटल संचालक ने कहा कि एग्रीमेंट के मुताबिक होटल में सभी प्रकार का सिविल अनुरक्षण उन्हें खुद अपने खर्च पर करना है। उन्होंने अपने खर्च से होटल का सौन्दर्यीकरण कार्य करवाया और उसे सुसज्जित किया, ताकि शहर के लोग झील के बीच बने इस होटल में सपरिवार आकर कुछ समय के लिए सुकून महसूस कर सकें। परन्तु, आज ध्वस्त कर दिया गया। इस कार्रवाई के दौरान टेबल, कुर्सी, पानी की टंकी के साथ-साथ खिड़की व दरवाजे के शीशे भी तोड़ दिए गए।